बढ़ती हुए उम्र में कई तरह की बीमारियाँ (Disease) आपको जकड़ने लगती हैं। जोड़ों का दर्द (Joint Pain)उनमें से सबसे आम बीमारी है। लेकिन ज़्यादातर लोग इसके दर्द को तब तक नजरअंदाज करते रहते हैं जब तक कि वह भयानक रूप धारण न कर ले। इस परिस्थिति में आने के बाद दवा खाने और लेप या रोग़न (ointment) लगाने के सिवा कोई चारा नहीं बचता है। इस परिस्थिति में आप नैचरल तरीके से भी जोड़ो के दर्द से राहत पा सकते हैं |

जोड़ों के दर्द के कारण – Causes of Joint Pain

जोड़ों में दर्द और सूजन उस समय होती है, जब जोड़ों के सामन्य रूप से काम करने या फिर संरचना में कोई गड़बड़ी पैदा हो जाए। जोड़ों का दर्द (Joint Pain) अनेक परिस्थितियों और कारणों से हो सकता है। इसके मुख्य कारण हैं, सूजन, संक्रमण यानी इन्फेक्शन, चोट लगना, एलर्जी और जोड़ों का सामन्य रूप से घिसना। रह्यूमेटॉएड आर्थराटिस, ऑस्टिओआर्थराइटिस, गाउट, वॉयरल ऑर्थराइटिस, रह्यूमेटिक लाइम डिजीज, ड्रग-इंड्यूस्ड आर्थराइटिस, बर्साइटिस और मोटापा जोड़ों में दर्द के कुछ मेडिकल कारण हैं।

आज हम आपको एक ऐसा घरेलू नुस्खा बताने जा रहे है जिसके प्रयोग से आपके जोड़ों के दर्द की समस्या का समाधान हो जायगा और आपकी हड्डियाँ भी मजबूत हो जायंगी

तो आये जानते है इस नुस्खे की विधि के बारे में |

सामग्री :-

1 किलो शहद

10 चम्मच अलसी के बीज (100 gram)

50 ग्राम कद्दू के बीज

5 चम्मच तिल के बीज (50 gram)

3 चम्मच किशमिश (50 gram)

50 ग्राम सूरजमुखी के बीज

50 ग्राम गेंहू

विधि :-

इस मिश्रण को तयार करना बेहद आसान है | उपर बताई सामग्री में से शहद को छोड़ कर सबको एक साथ ग्राइंडर में मिक्स करें और मिक्स होने के बाद में ऊपर से शहद डालिए और इसको ग्लास जार में निकाल कर रखें |

रोजाना नाश्ते और दोपहर के खाने से पहले इस मिश्रण का एक चम्मच सेवन करें बोहत जल्द लाभ होगा |

विशेष – जिन लोगों को स्टोन अर्थात पथरी की शिकायत ना हो वो इसमें चुना (Lime Stone) गेंहू के दाने के बराबर मिला कर लेंगे तो इसका असर कई गुना बढ़ जायेगा. धन्यवाद

Source: hinditown

http://healthandbeautyteam.com/wp-content/uploads/2016/10/54.jpghttp://healthandbeautyteam.com/wp-content/uploads/2016/10/54-150x150.jpgAdmin» Health
बढ़ती हुए उम्र में कई तरह की बीमारियाँ (Disease) आपको जकड़ने लगती हैं। जोड़ों का दर्द (Joint Pain)उनमें से सबसे आम बीमारी है। लेकिन ज़्यादातर लोग इसके दर्द को तब तक नजरअंदाज करते रहते हैं जब तक कि वह भयानक रूप धारण न कर ले। इस परिस्थिति में आने...